दिल्ली अब दूर नहीं Ruskin Bond

ISBN: 9789350642597

Published:

Hardcover

112 pages


Description

दिल्ली अब दूर नहीं  by  Ruskin Bond

दिल्ली अब दूर नहीं by Ruskin Bond
| Hardcover | PDF, EPUB, FB2, DjVu, talking book, mp3, ZIP | 112 pages | ISBN: 9789350642597 | 9.30 Mb

धूल और सुसती में लिपटा पीपलनगर उततर भारत का एक छोटा-सा शहर है, जहाँ जिंदगी बड़ी धीमी गति से चलती है और एक दिन से दूसरे दिन में कोई फरक नहीं लगता। न कोई बड़ी घटना घटती और न ही कोई खबर पैदा होती है। छोटे-से पीपलनगर के वासियो के सपने भी छोटे है जिनकी उड़ानMoreधूल और सुस्ती में लिपटा पीपलनगर उत्तर भारत का एक छोटा-सा शहर है, जहाँ जिंदगी बड़ी धीमी गति से चलती है और एक दिन से दूसरे दिन में कोई फर्क नहीं लगता। न कोई बड़ी घटना घटती और न ही कोई खबर पैदा होती है। छोटे-से पीपलनगर के वासियो के सपने भी छोटे है जिनकी उड़ान दिल्ली पहुंच कर रूक जाती है।



Enter the sum





Related Archive Books



Related Books


Comments

Comments for "दिल्ली अब दूर नहीं":


forum-ynh.pl

©2008-2015 | DMCA | Contact us